VIDEO:  ये है यूपी पुलिस विभाग का छप्पन भोग… !

VIDEO: ये है यूपी पुलिस विभाग का छप्पन भोग… !

लोकसभा चुनाव ड्यूटी में कड़ी धूप में डटे हुए पुलिसकर्मियों की विभाग से उम्मीदें उस समय टूट गईं जब उन्हें खाने में सड़ा हुआ खाना नसीब हुआ…. विभाग की तरफ से मिले खाने को कुछ जगहों पर पुलिसकर्मियों ने फेंक दिया और कुछ जगहों पर तो इस तरह के सड़े हुए खाने के लिए अधिकारियों पर कटाक्ष भी किया गया…

जब लोकसभा चुनाव की शुरुआत हुई थी तो प्रशासन ने ये दावा किया था कि चुनाव को सकुशल निपटाने के लिए जितने भी सुरक्षाकर्मी और मतदानकर्मी तैनात किये जायेंगे सबके लिए बेहतरीन खाना, ठंडा पानी और ठहरने की उचित व्यवस्था भी की जायेगी… पर, अगर हकीकत की बात करें तो वो बिलकुल परे है…

लोकसभा चुनाव के दौरान कहीं कहीं पैसे बचाने के चक्कर में पुलिसकर्मियों को बेस्वाद खाना दिया गया जिसे खाना बेहद मुश्किल हो… कड़ी धूप में तैनात रहने के बाद भी ऐसा खाना मिलना और वो भी इतनी गर्मी में बिना पानी के अपने आप में शर्म की बात है…. किसी बूथ पर भी पुलिसकर्मियों के पास पीने के पानी की व्यवस्था नहीं था और जो खाना पहुंचा वो खाने लायक नहीं था… इतना ही नहीं बल्कि पानी के लिए ड्यूटी पर सुबह से तैनात पुलिसकर्मी दर-दर भटकते रहे… जहां खाने का हाल बेहाल है, वहां पुलिसकर्मियों को पीने का पानी भी नसीब नहीं हुआ है…

इस दौरान ड्यूटी में लगे आगरा जनपद से करीब आधा दर्ज पुलिसकर्मी फूड प्वाइजनिंग का शिकार हुए…सोमवार 6 मई को लोकसभा चुनाव के दिन सात पुलिसकर्मी फूड प्वाइजनिंग का शिकार बन गए… इन सभी पुलिसकर्मियों की चुनाव सुरक्षा में ड्यूटी सोहावल क्षेत्र के ग्राम दिगम्बरपुर पोलिंग बूथ पर लगी थी… इनमें से आगरा जिले में तैनात राजेंद्र सिंह,राम अवतार सिंह, दूबर सिंह, निहाल सिंह, नंदकिशोर, विशंभर सहित आधा दर्जन पुलिसकर्मी व एक सिपाही यूपी डायल 100 रौनाही थाने से जुड़ा रूपेश पाठक सहित सात पुलिसकर्मी दिन भर दिगम्बरपुर गांव के पोलिंग बूथ पर चुनाव ड्यूटी में लगाए गए थे…

इन सभी पुलिस कर्मियों की चुनाव के दौरान भोजन करने के बाद रात में तबियत बिगड़ने लगी.. जब इन्हें इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया तो मेडिकल रिपोर्ट में सामने आया कि दूषित खाने की वजह से इन पुलिसकर्मियों की तबीयत खराब हुई है…

अब बस एक सवाल उठता है कि दिन रात बिना कोई फिकर किये जब पुलिसकर्मी अपनी जिम्मेदारी से पीछे नहीं हटते तो विभाग उनकी जिम्मेदारी उठाने में कैसे पीछे हट जाता है…

(यूपी पुलिस की हर छोटी-बड़ी खबरों को पढ़ने के लिए आप हमें फेसबुक ट्विटर पर और व्हाट्सअप भी फॉलो करें)

Related News

Videos