logo

ad
VIDEO : बुलंदशहर हिंसा के बाद भी जारी है हिंदू युवा वाहिनी का हुड़दंग

VIDEO : बुलंदशहर हिंसा के बाद भी जारी है हिंदू युवा वाहिनी का हुड़दंग

आज 6 दिसम्बर यानी कि बाबरी विध्वंस का दिन है, जिसको हिंदुओं में शौर्य दिवस और मुस्लिमों में काला दिवस के रूप में मनाया जाता है। इसी सिलसिले में बाराबंकी जिले में शौर्य दिवस के नाम पर कानून को जमकर उड़ाया गया, जहां हिन्दू युवा वाहिनी के कार्यकर्ताओं ने सड़क पर नंगी तलवारें लहराईं। फ़िलहाल एसपी सतीश कुमार ने मामले में जांच के आदेश दिए हैं।

निकाली गयी शोभायात्रा

उत्तर प्रदेश के जिला बाराबंकी में हिंदू युवा वाहिनी के शौर्य दिवस रैली में जम कर शस्त्रों का प्रदर्शन किया गया। आलम कुछ ऐसा था कि कार्यकर्ताओं ने नंगी तलवारों को बीच सड़क पर जमकर लहराया। मामले की खबर मिलते ही एसपी सतीश कुमार ने जांच के आदेश दिए हैं। शहर के नागेश्वर धाम से धनोखर और मुख्य मार्ग पर 6 दिसंबर की शौर्य यात्रा निकाली गयी।

हिंदू समुदाय मनाते हैं शौर्य दिवस:

अयोध्या के विवादित ढाँचे को लेकर जल रही आग की लपटें गाजियाबाद जिले तक अपनी ताप दे रही है। इसी के चलते आज पुलिस ने एलर्ट जारी कर दिया है। बता दें कि आज ही के दिन साल 1992 में विवादित बाबरी मस्जिद को कार सेवकों ने गिरा दिया था। वहीं इस साल बाबरी मस्जिद की बरसी को बेहद संवेदनशील माना जा रहा है।

ये भी पढ़ें: शहीद सुबोध के परिवार से सीएम योगी ने की मुलाकात, बोले…

मुस्लिम मना रहे काला दिवस:

इसके पीछे का कारण जिले में हिंदू और मुस्लिम समुदायों के बीच का आज के दिन को लेकर वैचारिक मतभेद है, जिसमें हिंदू समुदाय आज के दिन को शौर्य दिवस मानते हैं। वहीं मुस्लिम समुदाय इसे काला दिवस मानते हैं।

जिस तरह से कार सेवकों ने बाबरी मस्जिद गिरा कर इसे एक सफलता के तौर पर माना वहीं मुस्लिम समुदाय के लिए बाबरी मस्जिद का गिरना किसी धार्मिक आघात से कम नहीं था।

इसी वैचारिक मतभेद के चलते पुलिस ने जिले में पैनी नजर बना कर रखी हुई है। वहीं 2 दिन पहले ही बुलंदशहर में हुई हिंसा के बाद सुरक्षा के और कड़े इंतजाम किए गये हैं।

(यूपी पुलिस की हर छोटी-बड़ी खबरों को पढ़ने के लिए आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर भी फॉलो करें)

Related News

Videos