इस व्यक्ति ने की थी डिप्टी जेलर की हत्या, हुआ गिरफ्तार

इस व्यक्ति ने की थी डिप्टी जेलर की हत्या, हुआ गिरफ्तार

23 नवम्बर 2013 को वाराणसी के डिप्टी जेलर अनिल त्यागी की उनके जिम के बाहर ताबड़तोड़ फायरिंग कर मौत के घाट उतार दिया गया था। इस हत्याकांड में शामिल वांछित शूटर और प्रयागराज पुलिस के द्वारा 25 हज़ार का इनामिया पंकज गुप्ता उर्फ़ बिहारी को STF इकाई ने कैंट थाना अंतर्गत टकटकपुर के पास हलकी मुठभेड़ के बाद गिरफ्तार कर लिया। पकड़ा गया अपराधी वाराणसी मे रंगदारी मांगने की फिराक मुंबई से वाराणसी पहुंचा था।

इस सम्बन्ध में डिप्टी एसपी एसटीएफ विनोद कुमार सिंह बताया कि 2013 में हुए डिप्टी जेलर अनिल त्यागी हत्याकांड में शामिल शार्प शूटर, शातिर अपराधी हैदर की हत्या और प्रयागराज और मध्य प्रदेश के मैहर थाना क्षेत्र में बैंक से कई लाख की लूट सहित कई अन्य हत्याओं में शामिल बिहार के गोपालगंज थाने का निवासी पंकज गुप्ता को हमने पकड़ने में सफलता हासिल की है।

मुखबिर ने दी थी सूचना

उन्होंने बताया कि मुखबिर की सूचना पर हमने उसे टकटकपुर में मुठभेड़ के बाद गिरफ्तार किया। उसकेपास से एक असलहा, कारतूस और फर्जी आधार कार्ड बरामद किया है।

Also  Read : #Lucknow सपा नेता मुलायम सिंह यादव को जारी हुआ नोटिस, क्या है मामला

डिप्टी एसपी ने बताया कि पंकज ने पूछताछ में पाने जुर्म कुबूले हैं और बताया कि पहले वह चरस की तस्करी करता था। एनडीपीसी में जेल जाने के बाद एनडीपीसी वाराणसी के कोर्ट द्वारा जमानत पर था लेकिन कभी हाजिर नही हुआ। अपराधी हैदर के साथ मिलकर इलाहाबाद में कुछ वर्ष पूर्व दो बड़ी बैंक लूट किया था इसके यूपी सरकार द्वारा ऊपर ₹25000 का इनाम घोषित था। पंकज ने बताया कि दालमंडी के विक्की खान व बबलू खान के कहने पर 20 लाख की सुपारी लेकर अपनी प्रेमिका गुड़िया उसके पति राजू सोनकर के साथ मिलकर सोनभद्र में हैदर की हत्या में भी सम्मिलित रहा।

पंकज ने पूछताछ में बताया कि हैदर गैंग में रहने के दौरान दाल मंडी के बड़े मिर्जा के साथ असलहों का आदान-प्रदान व रंगदारी व लूट के व्यवस्थापन में भी साथ रहा। पंकज ने बताया कि अपने गैंग के साथ मध्य प्रदेश के मैहर थाना क्षेत्र में 20 लाख की बैंक लूट किया इसके बाद मध्य प्रदेश सरकार ने शातिर अपराधी के ऊपर ₹5000 का इनाम घोषित कर रखा था।

2016 मंडुवाडीह के नर्सरी व्यवसायी प्रकाश बिंद का अपहरण करके रंगदारी न मिलने के कारण हत्या कर लाश फेक दिया मंडुआडीह थाने में गलत नाम और पता बता कर जेल गया था जमानत पर छूटने के बाद दालमंडी के कादिर खिलौना से मिलकर फर्जी सिम लेकर वाराणसी के कई व्यापारियों से रंगदारी मांगने के इरादे से मुंबई से वाराणसी आया था।

इस टीम ने किया गिरफ्तार

एसएससी एसटीएफ के आदेश पर डिप्टी एस पी विनोद कुमार सिंह के निर्देशन में एसटीएफ के तेजतर्रार इंस्पेक्टर वाराणसी विपिन कुमार राय के नेतृत्व में उक्त अपराधी को गिरफ्तार करने में एसटीएफ टीम में ईएसआई अरविंद, हेड कॉन्स्टेबल बैजनाथ, कांस्टेबल जितेंद्र पांडे आदि लोग शामिल रहे।

(यूपी पुलिस की हर छोटी-बड़ी खबरों को पढ़ने के लिए आप हमें फेसबुक ट्विटर पर और व्हाट्सअप भी फॉलो करें)

Related News

Videos