फर्जी प्रमाण-पत्र के जरिये नौकरी दिलवाने वाला ‘मास्टरमाइंड’ गिरफ्तार

एसटीएफ की कार्रवाई में गिरफ्तार अभियुक्त

फर्जी प्रमाण-पत्र के जरिये नौकरी दिलवाने वाला ‘मास्टरमाइंड’ गिरफ्तार

उत्तर प्रदेश की स्पेशल टास्क फ़ोर्स की लखनऊ टीम को शुक्रवार को एक  बड़ी सफलता हाथ लगी है, जिसके तहत स्पेशल टास्क फ़ोर्स ने फर्जी शैक्षिक प्रमाण पत्र तैयार कर अध्यापक के पद पर फर्जी नौकरी करने वाले और फर्जी अंक प्रमाण पत्र बनाने वाले गिरोह का पर्दाफाश किया है। इसके साथ ही स्पेशल टास्क फ़ोर्स ने दो अभियुक्तों को देवरिया से गिरफ्तार भी कर लिया है। गौरतलब है कि, STF बीते लम्बे समय से बेसिक शिक्षा विभाग में फर्जी शैक्षिक प्रमाण पत्रों का प्रयोग कर सहायक अध्यापक के पद पर शिक्षा कर्मचारियों की मिलीभगत से अयोग्य व्यक्तियों की नियुक्ति पर नौकरी किये जाने के संबंध में सूचनाएँ मिल रही थी। जिसके तहत STF द्वारा अपने अभिसूचना तंत्र को सक्रिय किया गया था।

मुखबिर की सूचना पर हुई कार्रवाई:

  • STF लखनऊ ने शुक्रवार को फर्जी शैक्षिक प्रमाण पत्र तैयार कर अध्यापक के पद पर फर्जी नौकरी करने वाले और फर्जी अंक प्रमाण पत्र बनाने वाले गिरोह का पर्दाफाश किया है।
  • इससे पहले मिली सूचनाओं के आधार पर STF द्वारा अपना अभिसूचना तंत्र सक्रिय किया गया था।
  • गौरतलब है कि, इस मामले में सिद्धार्थनगर से गिरफ्तार राकेश सिंह ने अश्वनी श्रीवास्तव का का नाम बताया था।
  • जो सहायक अध्यापक की नौकरी के लिए जरुरी दस्तावेजों को जाली तरीके से बनाता था।
  • इसी क्रम में मुखबिर ने शुक्रवार को जानकारी दी कि, अश्वनी श्रीवास्तव देवरिया में अपने एक साथी मुक्तिनाथ से मिलने पहुँच रहा है।
  • मुखबिर ने यह भी बताया कि, मुक्तिनाथ गोरखपुर के बड़हलगंज में फर्जी प्रमाण पत्रों के आधार पर नौकरी कर रहा है।
  • मुखबिर की सूचना पर STF ने कार्रवाई करते हुए गुरुवार की रात करीब 11 बजे अश्वनी और मुक्तिनाथ को गिरफ्तार कर लिया।
  • STF की पूछताछ में अभियुक्त ने फर्जी प्रमाण पत्र बनाने की बात कही।
  • साथ ही उसने बताया कि, वह अभी तक कितने लोगों का फर्जी प्रमाण पत्र बना चुका है कि, उसे याद भी नहीं है।

बरामदगी:

  • STF को अभियुक्तों के पास से 5 मोबाइल फोन,
  • 1 लैपटॉप,
  • एक हजार रुपये नगद,
  • एक मोहर( MONAD यूनिवर्सिटी हापुड़),
  • 1 फर्जी मतदाता पहचान पत्र,
  • 2 निवास प्रमाण पत्र,
  • 3 नकली अंगुष्ठ,
  • एक खंड शिक्षाधिकारी की मोहर,
  • एक इंडिका कार,
  • साथ ही मोबाइल में कई प्रमाण पत्र भी बरामद हुए हैं।

ये भी पढ़ें: राजधानी: पुलिस ने पकड़े तीन शातिर लुटेरे, आधा दर्जन से अधिक मोबाइल बरामद

(यूपी पुलिस की हर छोटी-बड़ी खबरों को पढ़ने के लिए आप हमें फेसबुक, व्हाट्सएप्प और ट्विटर पर भी फॉलो करें)

Related News

Videos