नाबालिग ई-रिक्शा चालकों पर चला पुलिस का डंडा, वसूला जुर्माना

नाबालिग ई-रिक्शा चालकों पर चला पुलिस का डंडा, वसूला जुर्माना

यूपी के बहराइच जिले में ई-रिक्शा वाहनों का जबसे चलन सड़कों पर तेज हुआ है, किसी भी नियम और कानूनों का पालन चालक नहीं कर रहे हैं। वहीं, परिवहन विभाग भी आराम फरमा रहा है। कभी पुलिस की कुंभकरणी निंद्रा टूटी तो अभियान चलाने के बाद कुछ कार्रवाई करके अपना पीठ थपथपा लेती है। जबकि पुलिस और परिवहन दोनों ही विभागकों को इस बात की जानकारी है कि शहर में बिना मानकों के ई रिक्शा चल रहे हैं। यही वजह है कि शहर में जाम की स्थिति और भी बेकाबू हो चुकी है।

बिना मानक के सड़कों पर दौड़ रहे ई-रिक्शा

शहर में बिना मानक के सड़कों पर दौड़ रहे ई-रिक्शा वाहनों को लेकर पुलिस कीकुंभकरणी निंद्रा टूटी तो टीम बनाकर अभियान चलाया। यह अभियान पुलिस ने खासतौर पर नाबालिग बच्चों के खिलाफ चलाया, जिनकों सड़कों पर वाहन दौड़ाने की प​रशिन है। सही नहीं यह कानून का भी खुला उल्लंघन है। फिलहाल आपको बता दें कि पुलिस ने अभियान चलाकर नाबालिग बच्चों के ई रिक्शा वाहनों को सीज करने के साथ ही जुर्माना लगाकर वसूली भी की।

यह भी पढ़ें:अब इस ज़ोन के 27 नाकारा पुलिसकर्मियों पर गिरी गाज

10 वाहन सीज और 10000 रुपए का जुर्माना

बताते चलें कि नाबालिग बच्चों के विरूद्ध चलाए गए अभियान में पुलिस ने 10 वाहन सीज कर दिए। साथ ही 10000 रुपए का जुर्माना वसूला गया। यह अभियान पुलिस अधीक्षक बहराइच डॉ गौरव ग्रोवर के निर्देशन में प्रभारी यातायात शेषमणि पांडेय के द्वारा टीम बनाकर चलाया गया। फिलहाल पुलिस का ये अभियान कितना रंग लाता है, यह तो समय ही बताएगा। क्योंकि पुलिस पर हमेशा ही यह भी आरोप लगते रहते हैं कि जब कोई काम नहीं होता तो पुलिस अभियान चालकर वसूली कर लेती है। यदि सही से अभियान चले तो जाम से निजात तो मिले ही नियमों और कानूनों की अनदेखी भी नहीं होगी।

(यूपी पुलिस की हर छोटी-बड़ी खबरों को पढ़ने के लिए आप हमें फेसबुक ट्विटर पर और व्हाट्सअप भी फॉलो करें)

Related News

Videos