मेरठ ज़ोन: अपराध के लिए उठे हर सिर को कुचल रही ADG प्रशांत कुमार की पुलिस

एडीजी प्रशांत कुमार

मेरठ ज़ोन: अपराध के लिए उठे हर सिर को कुचल रही ADG प्रशांत कुमार की पुलिस

उत्तर प्रदेश में इन दिनों कानून-व्यवस्था के चीथड़े उड़े हुए हैं, बेख़ौफ़ बदमाशों के जेहन में पुलिस का इकबाल लगभग-लगभग खत्म हो चुका है और बदमाश लगातार एक के बाद एक पुलिस को चुनौतियाँ पेश कर रहे हैं। गौर करने वाली बात यह है कि, जहाँ उत्तर प्रदेश बीते लम्बे समय से बिगड़ती कानून-व्यवस्था से जूझ रहा है, वहीँ, राज्य में एक ज़ोन ऐसा भी है, जहाँ बदमाशों के हौंसले पुलिस ने पस्त कर रखे हैं या फिर कह सकते हैं कि, एक व्यक्ति ने अपराधियों के हौंसलों को पुलिस के खौफ में बदल दिया है और वो व्यक्ति हैं मेरठ ज़ोन के अपर महानिदेशक(ADG) प्रशांत कुमार। जिन्हें यूपी पुलिस का मौजूदा बेस्ट नकाउंटर स्पेशलिस्ट कहा जाये तो, किसी भी लिहाज से अतिश्योक्ति नहीं होगी। जिसका कारण है कि, जब सूबे के बेख़ौफ़ बदमाशों ने पुलिस की नाम में दम कर रखा था, तब मेरठ ही एकलौता ज़ोन था जहाँ जिस बदमाश ने अपना सिर उठाया पुलिस ने उसे कुचल दिया। ये ADG प्रशांत कुमार की कार्यक्षमता का ही नतीजा है कि, साल 2017 के बाद से अब तक मेरठ ज़ोन में तकरीबन 1400 एनकाउंटर हुए हैं और इस दौरान सभी मुठभेड़ें सफल भी रही हैं।

24 घंटे में मेरठ ज़ोन में 6 एनकाउंटर, 11 बदमाश गिरफ्तार:

  • सूबे के मेरठ ज़ोन में पुलिस ADG प्रशांत कुमार के निर्देशन में लगातार कानून का राज स्थापित करने में जुटी हुई है।
  • जिसके तहत बड़े पैमाने पर मेरठ ज़ोन में पुलिस बदमाशों से गोली की भाषा में बात कर रही है।
  • प्राप्त जानकारी के तहत, बीते 24 घंटों में मेरठ ज़ोन में कुल 6 एनकाउंटर हुए हैं।
  • जिसमें पुलिस ने 11 बदमाशों को पकड़ने में कामयाबी हासिल की है।
  • ये आंकड़े उस समय के लिहाज से अद्वितीय हैं जब पूरे प्रदेश में बदमाशों ने पुलिस की नाक में दम कर रखा है।

मेरठ ज़ोन में हुए 6 एनकाउंटर:

पहला एनकाउंटर:

मेरठू के ब्रह्मपुरी थाना क्षेत्र में मोबाइल लूट कर भाग रहे बादमशों से पुलिस की पहली मुठभेड़ हुई। मुठभेड़ में एक बदमाश राजा उर्फ जावेद गोली लगने से घायल हो गया है। पुलिस ने बदमाश से बाइक औऱ लूट का मोबाइल बरामद कर लिया है। जबकि, एक बदमाश मौके से फरार हो गया है।

दूसरा एनकाउंटर:

ज़ोन का दूसरा एनकाउंटर कैराना थाना क्षेत्र में हुआ। जहाँ शातिर असलाह तस्कर विक्की उर्फ़ बंटी को आज तड़के हुई पुलिस मुठभेड़ में गोली लगी है। इस दौरान बदमाश का सहयोगी रामकुमार भी गिरफ्तार हुआ है। पुलिस ने बदमाश के क़ब्ज़े से 12 असलहे, भारी मात्रा में ज़िन्दा कारतूस व असलहा फ़ैक्ट्री में प्रयुक्त उपकरण बरामद किये हैं।

तीसरा एनकाउंटर:

तीसरी मुठभेड़ मेरठ जिले में हुई है। जिले के थाना टी0पी0नगर क्षेत्र के अन्तर्गत पुलिस मुठभेड़ के दौरान पुलिस द्वारा की गई आत्मरक्षार्थ जवाबी पुलिस कार्रवाई में शातिर बदमाश व शराब तस्कर कल्लू (ईनामी 25 हजार रुपये) और आजाद गोली लगने से घायल कर गिरफ्तार किये गए हैं। अभियुक्तगण के कब्जे से 02 तमंचा मय 02 खोखा, 04 जिन्दा कारतूस 315 बोर, एक बाइक(बिना नम्बर) और 6 कट्टी अवैध शराब, 11कैन(100लीटर) एथनॉल एल्कोहल बरामद हुआ है। गौरतलब है कि, अभियुक्त कल्लू थाना का टॉप-10 अपराधी है।

चौथा एनकाउंटर:

अगला एनकाउंटर बागपत जिले में हुआ है, जहाँ पुलिस ने थाना रमाला क्षेत्र के अन्तर्गत हुई मुठभेड़ के दौरान जवाबी कार्रवाई में 15,000 रुपये के ईनामी अपराधी कपिल को गिरफ्तार कर लिया है। गौरतलब है कि, घायल बदमाश शामली व बागपत से महिला के हत्या के प्रयास में वांछित चल रहा था। घायल अपराधी के पास से 02 तमंचा मय 02 जिन्दा, 02 खोखा कारतूस 315 बोर और 01 मोटर साइकिल बरामद हुई है।

पांचवां एनकाउंटर:

अगला एनकाउंटर मेरठ जिले के कंकरखेड़ा थाना क्षेत्र में बीती रात हुआ है, जिसमें पुलिस ने 25 हजार रुपये के ईनामी बदमाश असलम को गिरफ्तार कर लिया है।

छठा एनकाउंटर:

अगला एनकाउंटर बुलंदशहर जिले से सामने आया है, जहाँ पुलिस ने रात में ट्रैक्टर लूटने जा रहे चार बदमाशों को मुठभेड़ में गिरफ्तार कर लिया है। इस मुठभेड़ में पुलिस का एक आरक्षी भी घायल हो गया था। पुलिस की जवाबी कार्रवाई में चारों बदमाश गोली लगने से घायल हो गये हैं।

ADG ज़ोन मेरठ की पुलिस ने बचाई हुई है यूपी पुलिस की इज्जत:

सूबे में इन दिनों कानून-व्यवस्था का क्या हाल है यह किसी से छिपा नहीं है। पुलिस की तमाम कोशिशों के बाद भी सूबे के बेख़ौफ़ बदमाश पुलिस से डर नहीं रहे हैं, लेकिन सूबे के मेरठ ज़ोन में ADG प्रशांत कुमार की अगुवाई में पुलिस बदमाशों से उस भाषा में बात कर रही है, जो उन्हें समझ आती है और वो भाषा है गोली की भाषा। गौरतलब है कि, एक ओर जहाँ पूरा प्रदेश बदमाशों के आतंक में जी रहा है। वहीँ, मेरठ ज़ोन के बदमाशों की हालत पुलिस ने ख़राब कर रखी है और इसकी वजह सिर्फ एक है, वो है ADG प्रशांत कुमार का कुशल निर्देशन। जिसके तहत पुलिस न सिर्फ वांछित अपराधियों को एनकाउंटरों में गिरफ्तार कर रही है। बल्कि, वारदात को अंजाम दिए जाने से पहले ही बदमाश पकड़े जा रहे हैं।

ऐसे में सूबे के सभी बड़े-छोटे अधिकारियों को ADG प्रशांत कुमार से कानून का राज स्थापित करने की सीख लेनी चाहिए। गौर करने वाली बात यह है कि, ADG प्रशांत कुमार सिर्फ मेरठ ज़ोन ही नहीं बल्कि, जहाँ भी उनकी तैनाती अभी तक रही है। वहां क्राइम का ग्राफ नीचे आ जाता है।  ये उनकी कार्यकुशलता ही है, जो उनके एक जिले में तैनाती के दौरान सबसे ज्यादा एनकाउंटर करने के रिकॉर्ड को अभी तक कोई तोड़ नहीं पाया है और शायद तोड़ भी नहीं पायेगा।

ये भी पढ़ें: आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस वे पर भीषण सड़क हादसा, एक की मौत, 12 घायल

(यूपी पुलिस की हर छोटी-बड़ी खबरों को पढ़ने के लिए आप हमें फेसबुक, व्हाट्सएप्प और ट्विटर पर भी फॉलो करें)

Related News

Videos