logo

आतंकवाद के खिलाफ SSP कलानिधि की पुलिस ने ली शपथ

आतंकवाद के खिलाफ SSP कलानिधि की पुलिस ने ली शपथ

आज ‘आतंकवाद विरोधी दिवस’ है। प्रदेश की सुरक्षा में लगी यूपी पुलिस आतंकवाद और किसी भी तरह की हिंसा के खिलाफ भी तथस्टता से खड़ी रहती है। इसी को लेकर आज राजधानी लखनऊ की पुलिस ने एक बार फिर आतंकवाद के खिलाफ अपनी आवाज को बुलंद करते हुए इसका डटकर सामना करने की शपथ ली। 

एसएसपी कलानिधि नैथानी ने दिलाई पुलिसकर्मियों को शपथ:

उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में एसएसपी कलानिधि नैथानी ने ‘आतंकवाद विरोधी दिवस’ के मौके पर कैम्प कार्यालय पर आतंक व हिंसा का डटकर विरोध करने और सामाजिक सद्भाव, सूझबूझ व मानव जीवन मूल्यों को खतरा पहुंचाने वाली विघटनकारी शक्तियों से लड़ने के लिए पुलिस कर्मियों को शपथ दिलाई।

आतंकवाद विरोधी दिवस का मकसद:

बता दें कि आतंकवाद जैसी समस्या से निपटने के लिए भारत ने 21 मई का दिन ही इसको समर्पित कर दिया है। हर साल 21 मई को पूरे देश में आतंकवाद विरोधी दिवस मनाया जाता है। इसका मकसद लोगों को आतंकवाद के समाज विरोधी कृत्य से लोगों को अवगत कराना है। आतंकवाद की वजह से लोगों को जानमाल का कितना नुकसान उठाना पड़ता है, उससे भी लोगों को अवगत कराया जाता है।

आज के दिन क्यों मनाया जाता है आतंकवाद विरोधी दिवस?

21 मई, 1991 को तमिलनाडु के श्रीपेरंबदूर में पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी की हत्या कर दी गई थी। उनकी हत्या के बाद ही 21 मई को आतंकवाद विरोधी दिवस के तौर पर मनाने का फैसला किया गया। इस दिन हर सरकारी कार्यालयों, सरकारी उपक्रमों और अन्य सरकारी संस्थानों में आतंकवाद विरोधी शपथ दिलाई जाती है।

इनपुट: सलमान 

(यूपी पुलिस की हर छोटी-बड़ी खबरों को पढ़ने के लिए आप हमें फेसबुक ट्विटर पर और व्हाट्सअप भी फॉलो करें)    

Related News

Videos