logo

ad
लखनऊ लूटकांड का CCTV फुटेज, पहचान बताने वाले को मिलेगा 50 हजार

लखनऊ लूटकांड का CCTV फुटेज जारी

लखनऊ लूटकांड का CCTV फुटेज, पहचान बताने वाले को मिलेगा 50 हजार

उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में कानून व्यवस्था चरमरा सी गई है। आए दिन बेखौफ बदमाश वारदात को अंजाम देकर फरार हो जा रहे हैं और पुलिस हाथ पर हाथ धरे बैठी है। जी हां, बीते सोमवार को भी ऐसा ही कुछ हुआ। जब रविवार की छुट्टी के बाद सोमवार सभी बैंक खुले तो पहले से घात लगाकर बैठे बाइक सवार बदमाशों ने विभुतिखंड के बैंक ऑफ इंडिया के सामने से गैस एजेंसी के कैशियर की हत्या करके 10 लाख कैश लूटकर फरार हो गए थे। पुलिस जल्द ही लुटेरों को गिरफ्तार करने का दावा कर ही है।

Also Read : लखनऊ: सुरक्षित नहीं महिलाएं, पत्रकार से छेड़छाड़ तो दहेज़ पीड़िता को थाने में बैठाया

लूटकांड का सीसीटीवी फुटेज आया सामने

लूट की वारदात के कई घंटे बाद भी पुलिस के हाथ खाली हैं। हालांकि पुलिस को बदमाशों के बारे में अहम सुराग हाथ लगा है। पुलिस को देर शाम सीसीटीवी फुटेज में खुनी लूटेरे नजर आए, दोनों की उम्र करीब 25 से 30 साल के आस-पास लग रही थी, बदमाशों की तलाश के लिए 12 टीमें लगाई गई हैं, एसएसपी लखनऊ कलानिधि नैथानी ने बदमाशों का सुराग देने वाले को 50 हजार रुपए के इनाम की घोषणा की है।

देखें वीडियो, 

दिनदहाड़े हत्या और लूट से मची थी सनसनी

कैशियर श्याम सिंह सोमवार सुबह साढ़े दस बजे बाइक खड़ी करके पैसा जमा करने सड़क के दूसरी ओर बैंक ऑफ इंडिया की तरफ जा रहे थे। तभी काले रंग की बाइक से आए दो बदमाशों में से पीछे बैठे बदमाश ने उन्हें गोली मार दी और रुपयों से भरा बैग लेकर भाग निकले। गोली पीठ में लगी और सीने से आर-पार हो गई। जिससे उनकी मौत हो गई। वहीं भीड़भाड़ वाले इलाके में दुस्साहसिक वारदात से सनसनी फ़ैल गई। सूचना मिलते ही एसएसपी कलानिधि नैथानी समेत कई अफसर और पुलिस फोर्स मौके पर पहुंची। गैस एजेंसी के मालिक मयंक मेहरोत्रा की तहरीर पर विभुतिखंड थाने में हत्या और लूट का केस दर्ज किया गया है।

Also Read : लखनऊ: थाना प्रभारियों के तबादले की इनसाइड स्टोरी

विभुतिखंड के नए थानाध्यक्ष को लुटेरों का वेलकम गिफ्ट !

विभुतिखंड के नए थानाध्यक्ष धीरेन्द्र कुमार उपाध्याय को चार्ज लिए अभी कुछ ही घंटे हुए थे। कि बदमाशों ने उनको वेलकम गिफ्ट दे दिया। दरअसल तत्कालीन एसओ मथुरा राय की नाकामी के बाद एसएसपी कलानिधि नैथानी ने धीरेन्द्र कुमार उपाध्याय को विभुतिखंड थाना इलाके में कानून का राज कायम करने की जिम्मेदारी दी थी। लेकिन जिस तरह बदमाशों ने सरेआम बैंक के सामने से लूट करके उनको चुनौती दी है। उसके बाद अब नए एसओ पर दबाव है कि जल्द से जल्द इस वारदात का खुलासा करें। अब देखना ये है की सीसीटीवी फुटेज और 50 हजार के ईनाम की घोषणा का पुलिस को कितना फायदा होता है।

(यूपी पुलिस की हर छोटी-बड़ी खबरों को पढ़ने के लिए आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर भी फॉलो करें)

Related News

Videos