चश्मदीद गवाह को बदमाशों की धमकी, ‘समझौता कर, नहीं तो 315 की गोली रखी है

प्रतीकात्मक चित्र

चश्मदीद गवाह को बदमाशों की धमकी, ‘समझौता कर, नहीं तो 315 की गोली रखी है

उत्तर प्रदेश में इन दिनों कानून-व्यवस्था का हाल किसी से छिपा हुआ नहीं है। सूबे में बदमाश जहाँ बेख़ौफ़ हैं, वहीँ, पुलिस लाचार दिख रही है। बदमाशों का बेख़ौफ़ रवैया हाल ही में सूबे के मेरठ जिले में देखने को मिला है। जहाँ बदमाशों ने कत्ल की एकलौती गवाह पर दबाव बनाने के लिए धमकी दी है, जिसमें उन्होंने कहा है कि, समझौता कर, नहीं तो तेरे नाम की 315 की गोली रखी हुई है। गौरतलब है कि, सूबे में इस समय अगर कहीं बदमाशों का बोलबाला नहीं है तो, वो मेरठ जोन ही है जहाँ की पुलिस बदमाशों के लिए काल बनी हुई है। वहीँ, धमकी के बाद चश्मदीद गवाह ने अपनी सुरक्षा के लिए एसपी से गुहार लगायी है।

पूरा मामला:

  • प्राप्त जानकारी के मुताबिक, मामला मेरठ जिले के झिटकरी का है।
  • जहाँ बीते 12 फरवरी 2018 को गाँव हसनपुर रजापुर में 50 हजार के ईनामी विपिन, सुजीत, अतुल ने ग्राम प्रधान संत सिंह के कहने पर महिला के पति बबलू की गोली मारकर हत्या कर दी थी।
  • ज्ञात हो कि, इससे पहले ये लोग महिला के भाई चेतन और माँ सावित्री देवी की भी हत्या कर चुके हैं।
  • वहीँ, हत्या के बाद महिला के देवर महेंद्र ने बबलू हत्याकांड में आरोपियों के खिलाफ मुक़दमा दर्ज करवाया था और सुमन ही एक हत्याकांड की एकलौती गवाह है।

एसपी क्राइम ने दिए थाना पुलिस को कार्रवाई के आदेश:

  • मामले में अब महिला ने आरोप लगाया है कि, हत्यारोपियों ने उसके देवर महेंद्र को भी अपने साथ मिला लिया है और अब वो उसपर समझौता करने का दबाव बना रहे हैं।
  • महिला ने देवर महेंद्र व शेखर, जगबीर, ग्राम प्रधान संत सिंह, जगपाल सिंह, अंकित व एक सिपाही पर दबाव बनाने का आरोप लगाया है।
  • महिला की शिकायत पर एसपी क्राइम ने बताया कि, थाना पुलिस को कार्रवाई करने के आदेश दे दिए गए हैं।
  • इसके साथ ही महिला को सुरक्षा भी मुहैया करवाई जा चुकी है।

ये भी पढ़ें: कौशांबी: जिला जेल में पांचवें अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस की तैयारियां जोरों पर

(यूपी पुलिस की हर छोटी-बड़ी खबरों को पढ़ने के लिए आप हमें फेसबुक ट्विटर पर और व्हाट्सअप भी फॉलो करें)

Related News

Videos