अपराध करता मिला सूचीबद्ध बदमाश तो छूट जायेगी थानेदारी..

अपराध करता मिला सूचीबद्ध बदमाश तो छूट जायेगी थानेदारी..

उत्तर प्रदेश के कानपुर जिले में अपराध पर लगाम लगाने के लिए एसएसपी अनंत देव तिवारी के तेवर सख्त हैं। यही वजह है कि उन्होंने निर्देश दे दिए हैं कि अगर कोई भी लिस्टेड अपराधी गैरकानूनी या आपराधिक गतिविधि करता पाया गया तो सिपाही और दारोगा पर कार्रवाई होगी, वहीं थानेदार पर भी गाज गिरेगी।

कानपुर में लागू हुई ‘एक अपराधी-एक सिपाही’ स्कीम:

दरअसल, कानपुर में बढ़ते अपराध को लेकर एसएसपी ने एक अनोखी स्कीम लागू की है। इस स्कीम का नाम है ‘एक अपराधी-एक सिपाही’। इसके तहत सभी थानों में उस क्षेत्र के अपराधी प्रत्येक सिपाही की निगरानी में होंगे। वहीं थाना स्तर पर टॉप टेन अपराधी पर एक दारोगा लगाया गया है।

ये भी पढ़ें: अब शोहदों की खैर नहीं, छेड़छाड़ करने पर पुलिस कर देगी शर्मसार…

अपराधी अपराध करते मिला तो बीट सिपाही और दारोगा पर होगी कार्रवाई

एक भी अपराधी अपराध करते मिला तो बीट सिपाही और दारोगा पर कार्रवाई की जाएगी और थानेदार को भी लाइन जाना पड़ेगा। एसएसपी ने पुलिस लाइन में क्राइम मीटिंग के दौरान ये निर्देश दिए। उन्होंने इस दौरान ये भी कहा कि सीओ और एडिशनल एसपी सिर्फ आफिस में न बैठकर फील्ड पर निकलने और अपराध पर नियंत्रण के लिए मातहतों पर नकेल कसें।

सर्किल अफसर और एएसपी निकले फील्ड पर:

एसएसपी ने सभी पुलिस कर्मियों को जनता के प्रति व्यवहार को और विनम्र बनाने के लिए कहा। उन्होंने कहा कि किसी भी थाने पर सुनवाई न होने की शिकायत न मिले। इसके लिए सर्किल अफसर और एडिशनल एसपी समय-समय पर थाने जाकर लोगों की समस्या सुन उनका निस्तारण करें।

(यूपी पुलिस की हर छोटी-बड़ी खबरों को पढ़ने के लिए आप हमें फेसबुक ट्विटर पर और व्हाट्सअप भी फॉलो करें)    

Related News

Videos