शराब में मिलावट करने वालों के खिलाफ हो सख्त कार्रवाई- CM योगी

सीएम योगी

शराब में मिलावट करने वालों के खिलाफ हो सख्त कार्रवाई- CM योगी

उत्तर प्रदेश में बीते दिनों जहरीली शराब से हुई हत्याओं को लेकर शासन लगातार सख्ती बरत रहा है। यही कारण है कि, सूबे के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बीते बुधवार को राजधानी लखनऊ में आबकारी विभाग की समीक्षा बैठक की थी। जिसमें उन्होंने अपराधियों से दो टूक रवैया में कहा कि, बाराबंकी जैसी घटना घटना दोबारा न हो। बैठक में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने यह भी कहा कि, ऐसी घटनाओं की तह तक जाकर कार्रवाई करें। सूत्रों की मानें तो, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने यह भी कहा कि, जहरीली शराब का कारोबार करने वालों को अगर कोई राजनीतिक संरक्षण भी मिला हुआ है तो, उसकी पड़ताल कर कार्रवाई करें।

जहरीली शराब बेचने वालों पर लगाया जाये NSA:

  • बीते दिनों प्रदेश में जहरीली शराब के सेवन से सैकड़ों लोगों ने अपनी जान गंवाई थी।
  • जिसके चलते शासन और प्रशासन की लगातार सख्ती के बाद भी जहरीली शराब का कारोबार फल-फूल रहा है।
  • इसी क्रम में बुधवार को राजधानी लखनऊ में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आबकारी विभाग की समीक्षा बैठक की थी।
  • मुख्यमंत्री ने बैठक में सख्त रुख अपनाते हुए मिलावटी शराब बनाने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई के आदेश दिए।
  • उन्होंने अधिकारियों को हिदायत दी कि, बाराबंकी जैसी घटना दोबारा न होने पाए।
  • मुख्यमंत्री योगी ने यह भी कहा कि, जहरीली शराब का कारोबार करने वालों के खिलाफ स्थानीय प्रशासन, पुलिस और आबकारी विभाग तालमेल बनाकर अभियान चलायें और कार्रवाई करें।
  • उन्होंने ये भी कहा कि, कार्रवाई के लिए जरुरत हो तो ऐसे लोगों की संपत्ति को भी जब्त किया जाये।
  • साथ ही उन्होंने कहा कि, जहरीली शराब बेचने वालों पर एनएसए लगाया जाये।
  • CM योगी ने यह भी कहा कि, अवैध शराब बनने वाले क्षेत्र में वहां की पुलिस को जवाबदेह माना जायेगा।

शराब की दुकानों पर लगे POS:

  • समीक्षा बैठक में मुख्यमंत्री योगी ने कहा कि, मिलावट रोकने में तकनीक की प्रभावी भूमिका हो सकती है।
  • जिसका इस्तेमाल किया जाए।
  • साथ ही जितना जल्दी संभव हो हर शराब की दुकान पर पीओएस मशीन लगाई जाएँ।
  • इसके अलावा कोई भी शराब की दुकान सार्वजनिक स्थल पर नहीं होनी चाहिए।
  • जिसकी जांच खुद आबकारी विभाग करे और ये सुनिश्चित करे कि, तय दूरी के मानक का अनुपालन हो रहा है या नहीं?

ये भी पढ़ें: पेटीएम, गूगल पे और भीम ऐप भी नहीं है सुरक्षित, हो रही है ठगी

(यूपी पुलिस की हर छोटी-बड़ी खबरों को पढ़ने के लिए आप हमें फेसबुक ट्विटर पर और व्हाट्सअप भी फॉलो करें)

Related News

Videos