ट्रैफिक पुलिस की लापरवाही बनी डायल 100 के सिपाही की मौत का सबब

ट्रैफिक पुलिस की लापरवाही बनी डायल 100 के सिपाही की मौत का सबब

उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में तेज रफ्तार का कहर थमने का नाम नहीं ले रहा है। इस बार ये कहर यूपी पुलिस के ही एक सिपाही पर पड़ा। दरअसल, राजधानी के नाका थाना क्षेत्र के विजय नगर मोड़ के पास तेज रफ्तार डीसीएम की टक्कर से एक सिपाही बुरी तरह जख्मी हो गया, जिसकी अस्पताल में इलाज के दौरान मौत हो गयी।

सिपाही को रौंद गयी डीसीएम

लखनऊ के नाक थाना क्षेत्र के विजयनगर मोड़ पर बुधवार रात तेज़ रफ़्तार डीसीएम ने टक्कर मार दी। जिस से बाइक सवार सिपाही गंभीर रूप से घायल हो गया। सूचना मिलते ही मौके पर पहुंची पुलिस ने घायल सिपाही को ट्रामा सेंटर में भर्ती कराया, जहाँ इलाज के दौरान सिपाही को डॉक्टरों ने मृत घोषित कर दिया ।

ये भी पढ़ें: गुमशुदा नाबालिक बच्ची के लिए मसीहा बनी पुलिस

पुलिस ने सिपाही की मौत की सूचना उसके परिजनों को दे दी है। मौत की खबर सुनते ही घर में कोहराम मच गया, वहीं सिपाही की मौत से पुलिस विभाग में भी शोक की लहर दौड़ गई।

जानकारी की अनुसार सीतापुर जिले के निवासी देवेंद्र यादव 2005 बैच के सिपाही थे। डायल हंड्रेड में उन्नाव के फतेहपुर चौरासी क्षेत्र में सिपाही के पद पर तैनात थे। वहीं इस मामले में क्षेत्रीय लोगों ने बताया कि नो एंट्री होने के बावजूद भी भारी वाहनों का आना-जाना लगा रहता है, लेकिन इस पर पुलिस की नजर नहीं जाती।

नो एंट्री में वाहनों के आने पर यातायात पुलिस का प्रतिबन्ध क्यों नहीं:

बता दें कि ऐसा नहीं कि वहां पुलिस की तैनाती नहीं रहती, व्यस्त चौराहा होने के कारण हमेशा पुलिस रहती है। उसके बावजूद भी नो एंट्री में भारी वाहन कैसे आ जाते हैं, जिसके चलते हादसे हो जाते हैं।

इनपुट : सलमान 

(यूपी पुलिस की हर छोटी-बड़ी खबरों को पढ़ने के लिए आप हमें फेसबुक ट्विटर पर और व्हाट्सअप भी फॉलो करें)

Related News

Videos