DGP ने किया एक दिवसीय स्टूडेंट पुलिस कैडेट कार्यक्रम का शुभारंभ

DGP ने किया एक दिवसीय स्टूडेंट पुलिस कैडेट कार्यक्रम का शुभारंभ

उत्तर प्रदेश पुलिस विभाग के आलाकमान डीजीपी ओपी सिंह ने सोमवार को राजधानी लखनऊ में  स्टूडेंट पुलिस कैडेट कार्यक्रम के तहत एक दिवसीय कार्यशाला का शुभारम्भ किया। बता दें कि यह कार्यक्रम यूपी 100 मुख्यालय के सभागार में आयोजित किया गया था। जिसमें गृह मंत्रालय, भारत सरकार और प्रदेश शासन के अधिकारी शामिल हुए। 

डायल 100 मुख्यालय में आयोजित कार्यक्रम में शामिल हुए आला अफसर:

लखनऊ के शहीदपथ पर स्थिति डायल 100 मुख्यालय में यूपी पुलिस के डीजीपी ओपी सिंह ने स्टूडेंट पुलिस कैडेट कार्यक्रम का उद्घाटन किया। इस मौके पर एमएचए, बीपीआरडी और शिक्षा विभाग, यूपी शासन के आला अधिकारियों समेत आईजी सिविल डिफेंस अमिताभ ठाकुर आदि शामिल रहे।

आईजी सिविल सुरक्षा अमिताभ ठाकुर होंगे नोडल अधिकारी

बता दें कि इस एक दिवसीय कार्यशाला में आईजी सिविल सुरक्षा अमिताभ ठाकुर नोडल अधिकारी होंगे। इस दौरान डीजीपी ने बताया कि एसपीसी कार्यक्रम के लिए जिलों में बनाए गए नोडल अफसरों को ट्रेनिंग दी जा रही है। उन्होंने ये भी कहा कि पुलिस को समाज के साथ काम करना पड़ता है। एसपीसी ट्रेनिंग कार्यक्रम के जरिए युवाओं, समाज को मजबूत बनाने का प्रयास।

डीजीपी ने कहा, एनसीपी होगी पुलिस के लिए उपयोगी:

डीजीपी ने कहा, ‘एससीसी पुलिस विभाग के लिए बहुत उपयोगी नहीं होता है। एसपीसी पुलिस के लिए उपयोगी साबित होंगें। स्कूलों को चयनित करके ये ट्रेनिंग प्रोग्राम चलाया जाएगा और आईजी अमिताभ ठाकुर इस कार्यक्रम के नोडल अफसर होंगें।

ये भी पढ़ें: लखनऊ की पुलिस लाइन में तैनात सिपाही की मौत

हर जिले में बनेगी कमेटी, डीएम से लेकर बीएसए तक होंगे शामिल:

वहीं हर जिले में इस कार्यक्रम पर नज़र रखने के लिए कमेटी बनेगी। डीएम,एसपी,डीआईओएस, बीएसए इस कमेटी का हिस्सा होंगे। डीजीपी ने कहा, ‘हमारा प्रयास होगा कि हर थाने में भी एक ऐसी कमेटी बने।’

वर्कशॉप में 35 DSP, 33 अफसर ले रहे हिस्सा:

बता दें कि इस एक दिवसीय ट्रेनिंग वर्कशॉप में 35 डीएसपी, 33 नॉन गेस्टेड अफसर शामिल हुए । कार्यक्रम के जरिये स्कूली बच्चों के करीब जाने का प्रयास किया जाएगा। एसपीसी कार्यक्रम केरल में बहुत सफल रहा है। इसी कड़ी में यूपी के भी हर जिले में 40 से 70 स्कूल एसपीसी कार्यक्रम के लिए चयनित किए जा रहे हैं। इस ट्रेनिंग के बाद एसपीसी पुलिस की मदद करेंगें। विदेशों में एसपीसी को अच्छे ग्रेड दिए जाते हैं।

इनपुट: सलमान

(यूपी पुलिस की हर छोटी-बड़ी खबरों को पढ़ने के लिए आप हमें फेसबुक ट्विटर पर और व्हाट्सअप भी फॉलो करें)

Related News

Videos