logo

लखनऊ में एक और हत्या, आखिर क्यों नहीं थम रहा सिलसिला?

लखनऊ में एक और हत्या, आखिर क्यों नहीं थम रहा सिलसिला?

राजधानी के आलमबाग थाना क्षेत्र अंतर्गत एक व्यापारी (businessman) की देर रात बदमाशों ने गोली मारकर हत्या कर दी। जिसकी सूचना पाकर पहुंची पुलिस ने व्यापारी को इलाज के लिए लोकबंधु अस्पताल पहुंचाया जहां उसकी हालत गंभीर देखते हुए डॉक्टरों ने उसे ट्रामा सेंटर रेफर कर दिया। वहीं बताया गया कि ट्रामा में व्यापारी ने इलाज के दौरान दमतोड़ दिया। वहीं पुलिस इस घटना को पुरानी रंजिश मानकर आरोपियों की तलाश कर रही है और जिन आरोपियों के नाम प्रकाश में आये हैं उनके हर संभव स्थानों पर लगातार दबिश दी जा रही है।

ये था मामला

पूरा मामला आलमबाग थाना क्षेत्र के चंदन नगर का हज जहां बेखौफ बदमाशों ने कपड़ा व्यपारी अमनप्रीत को दुकान के अंदर घुसकर गोली मार दी। घटना को अंजाम देने के बाद बेखौफ बदमाश मौके से पैदल ही भाग निकले। जिसकी सूचना आस-पास के दुकानदारों ने पुलिस को दी साथ ही अमनप्रीत को इलाज के लिए लोकबंधु अस्पताल पहुंचाया जहां हालत गंभीर देखते हुए डॉक्टरों ने उसे ट्रामा सेंटर के लिए रेफर कर दिया।

वहीं इलाज के दौरान अमनप्रीत ने दमतोड़ दिया। हत्या की वजह पुरानी रंजिश बताई जा रही है। साथ ही रुपए के लेनदेन को लेकर पुलिस पाली, सोनू और राजू सरदार नामक आरोपियों की सरगर्मी से तलाश कर रही है।

वहीं अगर सूत्रों की मानें तो कपड़ा व्यापारी अमनप्रीत आलमबाग इलाके की पुलिस का खास कारिंदा था। जिसके द्वारा पारा में शराब पकड़ी गई थी और सरोजनीनगर में बीते साल हुई शराब व्यापारी विनोद सिंह की हत्या से भी अमनप्रीत की हत्या के तार जुड़े होने का अंदेशा लगाया जा रहा है।

Also Read : जब अचानक सुबह ही निरीक्षण करने पुलिस स्टेशन पहुंचे

अमनप्रीत की हत्या की घटना के बाद से आईजी रेंज एस.के. भगत ने अपराधियों की धर पकड़ के लिए आलमबाग में डेरा डाला। साथ ही घटना के बाद एसएसपी कलानिधि सहित आईजी लखनऊ समेत कई थानों की फोर्स मौके पर पहुंच गई। पुलिस हत्यारों को पकड़ने के लिए जगह-जगह ठिकानों पर दबिश दे रही है। 

जांच में जुटी पुलिस

वहीं एसपी पूर्वी सर्वेश कुमार का कहना है कि अमनप्रीत की हत्या पुरानी रंजिश और रुपयों के लेनदेन को लेकर हुई है। साथ ही बताया कि हत्या को उस वक्त अंजाम दिया गया है जब मृतक दुकान बंद कर घर जाने की तैयारी कर रहा था। वहीं उनका कहना है कि कुछ लोगों के नाम चिन्हित किये गए है और उनको हिरासत में लेकर पूछताछ भी की जाएगी। फिलहाल मृतक के परिजनों की तरफ से जो भी तहरीत मिलेगी उसके हिसाब से ही मामला दर्ज किया जाएगा।

Shiraz Ahamd

(यूपी पुलिस की हर छोटी-बड़ी खबरों को पढ़ने के लिए आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर भी फॉलो करें)

Related News

Videos