पहले हुई थी एक महंत की हत्या, अब दूसरे पर हुआ हमला

पहले हुई थी एक महंत की हत्या, अब दूसरे पर हुआ हमला

कुछ समय पहले उत्तर प्रदेश के रायबरेली जिले में ऊंचाहार कोतवाली के एक गांव में एक पुजारी का शव फांसी के फंदे से लटकता मिला था। इस मामले में अब जिले के संत समाज ने सीबीआई जाँच की मांग उठाई है। इसी के साथ एक महंत ने जिले के डीएम पर भी गंभीर आरोप लगाये हैं।

डीएम पर लगाये आरोप 

जानकारी के मुताबिक, गुरुवार की शाम राम जानकी मंदिर के बाहर एक-एक करके तीन बोलेरो पहुंची। बोलेरो सवार लोग मंदिर परिसर में घुस गए। वहां मौजूद मंदिर के पुजारी बाबा गोविद दास को मंदिर छोड़कर चले जाने की धमकी दी। इस बीच गांव के लोग मंदिर के आसपास जमा होने लगे। इस पर सभी आरोपित अपने वाहनों पर सवार लोग भाग निकले।

ये भी पढ़ें: #बहराइच : रिश्वतखोर सिपाही ने खाकी को किया शर्मसार, हुआ निलंबित

गोविन्द दास का आरोप है कि मंदिर के महंत बाबा प्रेमदास की हत्या में नामजद बाबा राम स्वरूप दास अपने साथ लोगों को लेकर आए थे। उनका ये भी आरोप है कि जिले के डीएम ने उनके नाम की सुपारी दे रखी है। मामले की सूचना पाकर कोतवाली पुलिस मौके पर पहुंची। पुलिस ने गांव के लोगों और मंदिर के अन्य पुजारियों का बयान दर्ज किया। डलमऊ सीओ विनीत सिंह ने बताया कि मामले में मुकदमा दर्ज करके विवेचना की जाएगी। इसमें जिन लोगों का हाथ है, उन्हें किसी भी दशा में बख्शा नहीं जाएगा।

मन्दिर के बाहर मिला था महंत का शव 

पूरी घटना ऊंचाहार कोतवाली के गांव बाबा का पुरवा मजरे इटौरा बुजुर्ग की है। यहां रामजानकी मंदिर प्रेमदास कुटी के पुजारी का शव मंदिर के बाहर गेट पर फांसी के फंदे से लटकता मिला था। इस मामले में अब सीबीआई जांच की मांग की गयी है।

(यूपी पुलिस की हर छोटी-बड़ी खबरों को पढ़ने के लिए आप हमें फेसबुक ट्विटर पर और व्हाट्सअप भी फॉलो करें)    

Related News

Videos