CBI डायरेक्टर आलोक वर्मा हटाए गए, बने DG फायर सर्विस

पूर्व सीबीआई डायरेक्टर आलोक वर्मा

CBI डायरेक्टर आलोक वर्मा हटाए गए, बने DG फायर सर्विस

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता वाली चयन समिति ने सीबीआई डायरेक्टर आलोक वर्मा को केंद्रीय जांच एजेंसी के निदेशक पद से हटा दिया है। गुरुवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के आवास पर आयोजित समिति की बैठक में यह फैसला लिया गया। इस समिति में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के अलावा सुप्रीम कोर्ट के वरिष्ठ जस्टिस एके सीकरी और विपक्ष नेता मल्लिकार्जुन खड़गे शामिल रहे। यह बैठक करीब दो घंटे से ज्यादा समय तक चली। सूत्रों के अनुसार, आलोक वर्मा को डीजी फायर सर्विसेज बनाया गया है।

इस बैठक में विपक्ष नेता मल्लिकार्जुन खड़गे, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और जस्टिस सीकरी से असहमत नजर आए। सलेक्शन कमेटी में 2-1 से आलोक वर्मा हार गए और उन्हें निदेशक पद से हटा दिया गया।

ये भी पढ़ें: रंगरूटों के प्रशिक्षण के लिए ये होंगे दो नए ट्रेनिंग सेंटर…

सलेक्शन कमेटी में 2-1 से हारे आलोक वर्मा…..

बता दें कि बीते दिन सुप्रीम कोर्ट ने सीबीआई डायरेक्टर आलोक वर्मा को बड़ी राहत देते हुए उन्हें छुट्टी पर भेजने के केंद्र के फैसले को निरस्त कर दिया था। शीर्ष अदालत ने कहा कि आलोक वर्मा को हटाने के लिए सरकार को प्रधान न्यायाधीश, प्रधानमंत्री और नेता विपक्ष की सिलेक्ट कमेटी का रुख करना चाहिए था।

मुख्य न्यायाधीश रंजन गोगोई के अवकाश पर रहने के कारण फैसला कोर्ट नंबर-12 जस्टिस संजय कॉल ने सुनाया था। उन्होंने केन्द्रीय सतर्कता आयोग के फैसले को पलटते हुए कोर्ट ने कहा कि बचे हुए कार्यकाल में आलोक वर्मा कोई नीतिगत फैसले नहीं ले पायेंगे और तब तक आलोक वर्मा रोजाना के कामकाज में प्रशासनिक फैसले लेंगे।

Also Read : अपहरण के बाद हत्या मामले में STF ने दो आरोपियों को किया गिरफ्तार

आलोक वर्मा को सीबीआई निदेशक पद से हटाया गया

सुप्रीम कोर्ट का यह फैसला सेलेक्ट कमेटी के पास गया था। सीजेआई, प्रधानमंत्री और नेता विपक्ष की सेलेक्ट कमेटी को यह तय करना था कि वर्मा को उनके पद से हटाया जाए या नहीं। सेलेक्ट कमेटी ने गुरुवार को बैठक करके आलोक वर्मा को सीबीआई निदेशक पद से हटा दिया गया है।

(यूपी पुलिस की हर छोटी-बड़ी खबरों को पढ़ने के लिए आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर भी फॉलो करें)

Related News

Videos