logo

ad
डेंगू की शिकार हुई बनारस की ‘लेडी सिंघम’ 

अंकिता सिंह

डेंगू की शिकार हुई बनारस की ‘लेडी सिंघम’ 

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का संसदीय क्षेत्र वाराणसी में डेंगू कहर बरपा रहा है। आम लोगों के साथ अब वीआईपी भी डेंगू की चपेट में आने लगे हैं। खासतौर से पुलिस वालों पर डेंगू का काला साया तेजी से मंडरा रहा है। आदमपुर के 8 पुलिसकर्मियों के बाद अब वाराणसी में ‘लेडी सिंघम’ के नाम से मशहूर अंकिता सिंह(Akita Singh) डेंगू से पीड़ित हो गई हैं। उन्हें शहर के एक निजी नर्सिंग होम में भर्ती किया गया है।

तेजी से डाउन ही रह प्लेटलेट्स

अंकिता सिंह का प्लेटलेट्स तेजी से डाउन हो रहा है। डॉक्टरों के मुताबिक अंकिता सिंह का प्लेटलेट्स फिलहाल 40 हजार के करीब है। अगले 24 घंटे में उनकी हालत नहीं सुधरी तो प्लेटलेट्स चढ़ाना पड़ेगा। सीओ चेतगंज अंकिता सिंह का प्लेटलेट्स एबी पॉजिटिव है। फिलहाल डॉक्टरों की टीम उनके हालात पर नजर बनाए हुए है।

दरअसल इन दिनों बड़ी संख्या में पुलिसकर्मी डेंगू की चपेट में आ रहे हैं। पिछले दिनों एसएसपी के हेड पेशी इसकी चपेट में आकर काल के गाल में समा चुके हैं। नगर निगम और स्वास्थ्य विभाग के तमाम दावों के बावजूद डेंगू के प्रकोप बढ़ता जा रहा है और इसमें कोई सुधार के आसार फिलहाल नहीं दिख रहे हैं।

Also Readजिम्मेदारियों को बखूबी निभाने वाली अर्चना को मिली गृह जनपद में तैनाती

लहरतारा विस्फोट में चर्चा में आई थीं अंकिता सिंह

‘लेडी सिंघम’ के नाम से चर्चित पीपीएस अधिकारी से जहां अपराधी खौफजदा रहते हैं वहीं आम लोगों के लिए वह किसी स्तर पर उतर कर मदद से लिए तैयार रहती है। जनशिकायतों को किस गंभीरता से लती है इसका अंदाजा इससे लगाया जा सकता है कि इसकी खातिर बनी आईजीआरएस रैकिंग में तीसरी बार समूचे प्रदेश में अव्वल दर्जा हासिल किया था।

पिछले दिनों लहरतारा इलाके में हुए विस्फोट  इसके यह अधिकारी इस समय जीवन-मृत्यु से संघर्ष कर रहीके दौरान अंकिता सिंह की एक फोटो सुर्खियां बनी थी।

(यूपी पुलिस की हर छोटी-बड़ी खबरों को पढ़ने के लिए आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर भी फॉलो करें)

Related News

Videos