EXCLUSIVE: पुलिसकर्मियों के विज्ञापन पर लगी रोक पर DGP ने बताई सच्चाई

डीजीपी ओपी सिंह, उत्तर प्रदेश पुलिस

EXCLUSIVE: पुलिसकर्मियों के विज्ञापन पर लगी रोक पर DGP ने बताई सच्चाई

कई दिनों से सोशल मीडिया पर एक खबर चल रही थी, जिसमें पुलिसकर्मियों के विज्ञापन पर रोक की बात सामने आ रही थी। इस खबर के वायरल होते ही पूरे पुलिस महकमे में खलबली मच गई थी। पुलिसकर्मी इस बात का पता लगाने लगे थे कि क्या वाकई ये रोक लगाई गई है?

आईए जानते है कि इस खबर पर यूपी पुलिस विभाग के डीजीपी ओपी सिंह का क्या कहना-

तो आईये आपको इस खबर की सच्चाई बताते हैं। आपको बता दें कि इस बात की पुष्टि खुद डीजीपी ओपी सिंह ने की है। आगे से अगर किसी पुलिसकर्मी या अधिकारी ने त्योहार या विशेष दिनों से विज्ञापन के जरिये शुभकामना संदेश दिया तो उस पर कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

ये भी पढ़ें: सीतापुर कांवड़िया विवाद: तनाव के चलते भारी संख्या में पीएसी तैनात

विज्ञापन देने पर होगी कार्रवाई

उत्तर प्रदेश पुलिस विभाग के मुखिया डीजीपी ओपी सिंह ने पुलिसकर्मियों के विज्ञापन पर रोक लगाई है। आपको बता दें त्योहारों और किसी विशेष दिन के मौके पर जो सिपाही, इंस्पेक्टर, इंस्पेक्टर, थाना प्रभारी, प्रभारी निरीक्षक, निरीक्षक, कप्तान, डीआईजी, आईजी जो शुभकामना संदेश देते लेकिन अब से वो ऐसा नहीं कर पाएंगे।

कई डीआईजी ने भी अपने ज़ोन में इस निर्देश जारी किया है। साथ ही कहा जा रहा है कि विज्ञापन छपने पर ऐसे पुलिसकर्मियों पर तत्काल कार्रवाई होगी। ये निर्देश आज की मीटिंग में तय किया गया है।

(यूपी पुलिस की हर छोटी-बड़ी खबरों को पढ़ने के लिए आप हमें फेसबुक ट्विटर पर और व्हाट्सअप भी फॉलो करें)

Related News

Videos