logo

बुलंदशहर हिंसा : आरोपी खेल रहे वीडियो-वीडियो, कहां सो रही पुलिस ?

बुलंदशहर हिंसा : आरोपी खेल रहे वीडियो-वीडियो, कहां सो रही पुलिस ?

बुलन्दशहर… एक ऐसे जिले का नाम, जहां हाल ही में हुए बवाल ने पूरे देश, पूरे महकमें और सरकार को हिला दिया। इस बवाल में एक इंस्पेक्टर शहीद हुए तो वहीं एक छात्र की भी मौत हो गयी। इसी के साथ दफ़न हो गए कई सपने जो इंस्पेक्टर सुबोध और छात्र सुमित ने अपने भविष्य के लिए देखे होंगे। डीजीपी और मुख्यमंत्री के आदेशों के बाद भी पुलिस इन लोगों के हत्यारोपियों को पकड़ने में नाकाम साबित होती नजर आ रही है। दूसरी तरफ मामले के मुख्य आरोपी अपनी वीडियो (video) बना-बना कर खुद को बेकसूर साबित करने में लगे हैं।

पहले वीडियो में आरोपी ने खुद को बताया बेकसूर

अगर पहली वीडियो की बात करें तो गोकशी मामले में भड़की हिंसा और भीड़ व पुलिस के बीच के विवाद को लेकर पुलिस योगेश राज को मुख्य मास्टरमाइंड मान रही है। बता दें कि योगेश राज बजरंग दल संयोजक है। पुलिस के मुताबिक योगेश ही मौके पर प्रोटेस्ट को लीड कर रहा था। योगेश ने अपना एक वीडियो जारी किया है, जिसमें उसने खुद को बेकसूर बताया है।

Also Read#बुलंदशहर_हिंसा: मास्टरमाइंड योगेश का वीडियो जारी, खुद को बताया बेकसूर

वीडियो में योगेश कह रहा है कि जब इंस्पेक्टर को गोली लगी तब वह थाने में था। उसने कहा कि इस घटना से उसका कोई लेना-देना नहीं है। गोकशी को लेकर उनकी मांग पूरी हो गयी थी और पुलिस ने केस भी लिख लिया था। उसके मुताबिक़ पुलिस ने जब केस दर्ज कर लिया था तो उसके पास हिंसा भड़काने या पुलिस पर आक्रामक होने की उनके पास कोई वजह नहीं थी। उसने कहा, ‘मुझे विश्वास है ईश्वर मुझे न्याय दिलाएंगे।’

दूसरी वीडियो में दूसरा आरोपी आया सामने

वहीं अगर दूसरी वीडियो की बात करें तो यह वीडियो घटना के दूसरे आरोपी शिखर अग्रवाल ने जारी किया है। इस वीडियो में शिखर अग्रवाल ने मृतक इंस्पेक्टर सुबोध कुमार सिंह के ऊपर गंभीर आरोप लगाए हैं।

Also Readपैसे लेकर गोकशी कराते थे इंस्पेक्टर सुबोध – शिखर अग्रवाल

सोशल मीडिया पर जारी वीडियो में शिखर अग्रवाल ने मृतक एसएचओ सुबोध कुमार सिंह पर पैसे लेकर गौकशी करवाने का आरोप लगाया है। शिखर अग्रवाल ने वीडियो में स्याना एसडीएम को भी इस घटना में राजदार बताया है।

ये था मामला

आपको बता दें कि बुलंदशहर में सोमवार को गोकशी को लेकर ग्रामीणों और पुलिसकर्मियों के बीच में बवाल हुआ था।  ग्रामीणों ने पुलिस चौकी पर जमकर तोड़फोड़ की और वाहनों में आग लगा दी थी। इस दौरान उन्होंने पथराव और आगजनी भी की। ग्रामीणों द्वारा किये गए पथराव में स्याना कोतवाल सुबोध कुमार सिंह की मौत हो गई। इस हिंसक घटना में पुलिस फायरिंग में एक छात्र की भी मौत हुई है।

(यूपी पुलिस की हर छोटी-बड़ी खबरों को पढ़ने के लिए आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर भी फॉलो करें)

Related News

Videos