‘बाइक बोट महाठगी’ में 11 आरोपियों पर 25-25 हजार का इनाम घोषित

‘बाइक बोट महाठगी’ में 11 आरोपियों पर 25-25 हजार का इनाम घोषित

नोएडा की महा ठग कंपनी बाइक बोट के जरिये करोड़ों रुपये के फर्जीवाड़े में अब पुलिस ने 11 अन्य फरार आरोपियों पर इनाम घोषित किया है। बता दें कि बाइक बोट के मालिक संजय भाती ने पहले ही कोर्ट में सरेंडर कर दिया था। वहीं अब इस फर्जीवाड़े में शामिल अन्य आरोपियों को 25-25 हजार का इनाम घोषित कर उनकी गिरफ्तारी का प्रयास किया जा रहा है।

फरार चल रहे हैं 11 आरोपी:

गौरतलब है कि अब तक आठ आरोपियों को पुलिस गिरफ्तार कर जेल भेज चुकी है। वहीं संजय भाटी ने खुद ही कोर्ट में सरेंडर कर दिया था। सभी आरोपियों ने हजारों लोगों को बाइक टैक्सी के रूप में चलाने के नाम पर करोड़ों रुपए की ठगी की थी।

मालिक संजय भाटी ने किया था सरेंडर:

वहीं सूत्रों की माने तो महाठग संजय भाटी के मेरठ ज़ोन के अधिकारियों के साथ शानदार सम्बन्ध हैं , जिसके चलते काफी समय से उसकी गिरफ्तारी नहीं हो सकी थी। मामले की जांच में कई बड़े अफसरों के नाम भी इस फर्जीवाड़े में सामने आने की संभावना है।

ये भी पढ़ें: AUDIO: BJP विधायक ने दारोगा को दी धमकी, दारोगागिरी घुसेड़ देंगे, टांगे तोड़ देंगे

क्या है बाइक बोट स्कीम:

गर्वित इनोवेटिव प्रमोटर्स लिमिटेड (जीआइपीएल) कंपनी ने बाइक बोट स्कीम चलाई थी। इसके तहत एक बाइक लगवाने के नाम पर 62,100 रुपये लेकर 12 महीनों तक हर माह 9765 रुपये खाते में डालने के सब्जबाग दिखाए गए थे। शुरू में पैसे खाते में आने से विश्वास बढ़ा और स्कीम से जुड़कर मेरठ व अन्य जिलों के लोगों ने करोड़ों रुपये का निवेश कर दिया। लेकिन छह माह पहले पैसे खाते में आना बंद होने से निवेशकों में हड़कंप मचा हुआ है।

(यूपी पुलिस की हर छोटी-बड़ी खबरों को पढ़ने के लिए आप हमें फेसबुक ट्विटर पर और व्हाट्सअप भी फॉलो करें)

Related News

Videos